अब अदालतों के चक्कर काटेंगे पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, रेप का है आरोप


न्यूयॉर्क: अमेरिका के राष्ट्रपति पद से हटते ही डोनाल्ड ट्रंप के सामने एक-एक मुश्किलें खड़ी होनी शुरू हो गई हैं. खास कर यौन उत्पीड़न और रेप के मामलों में. इनमें से एक मामला लेखिया ई जीन करोल ने लगाए हैं. उन्होंने कहा कि वो उस दिन का बेसब्री से इंतजार कर रही हैं, जब डोनाल्ड ट्रंप से मेरे आगे पूछताछ हो. उन्होंने कहा कि साल 2019 में उनके खिलाफ मामला दर्ज नहीं हो सका था, क्योंकि वो संवैधानिक पद पर थे. लेकिन अब वो पद से हट चुके हैं, तो एक बार फिर से उन्हें न्याय मिलने की उम्मीद बढ़ गई है. 

1990 के दशक में किया था रेप

पूर्व पत्रकार और लेखिका जीन करोल का कहना है कि उनके वकील ट्रंप को उनके सामने लाने की कोशिशें कर रहे हैं.जो केस उन्होंने नवंबर 2019 में ट्रंप के खिलाफ दायर किया था. उन्होंने आरोप लगाया था कि डोनाल्ट ट्रंप (Donald Trump) ने 1990 के दशक के बीच में मैनहटन डिपार्टमेंट स्टोर में उनका रेप किया था. हालांकि ट्रंप ने कहा है कि वो करोल को जानते ही नहीं. करोल ये कोशिश सिर्फ अपनी किताब बेचने के लिए कर रही हैं. उन्होंने कहा था कि करोल उनके टाइप की हैं ही नहीं. 

सामना होने के बारे में हर दिन सोचती हूं

रायटर्स को दिए इंटरव्यू में जीन करोल का कहना है कि हर दिन वो मनाती हैं कि उन्हें डोनाल्ड ट्रंप के सामने बैठने का मौका मिले, ताकि वो उन्हें उनका दोष याद दिला सके. इससे पहले, जब ये केस दर्ज हुआ था, तब वो संवैधानिक पद पर थे और उनके वकीलों से कहा था कि ट्रंप के ऊपर आम अदालत में मुकदगा नहीं चलाया जा सकता. 

ये भी पढ़ें: Coronavirus New Variants: महाराष्ट्र में मिले कोरोना के 2 नए वेरिएंट, बढ़ते मामलों पर ICMR ने कही ये बात

कौन हैं करोल?

जीन करोल की उम्र 77 साल है और वो यल मैगजीन की कालमनिस्ट रही हैं. उन्होंने इस केस में मुआवजा मांगा है, साथ ही ट्रंप से झूठे बयानों को वापस लेने की मांग की है. ये ट्रंप के खिलाफ डिफेमेशन केस में दूसरा केस है. इससे पहले उनके मशहूर टीवी शो ‘द अपरेंटिस’ में काम कर चुकी समर जेर्वोस ने साल 2016 में गंभीर आरोप लगाए थे. उन्होंने ट्रंप पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था और कहा था कि ट्रंप ने साल 2007 में उन्हें जबरदस्ती चूमा था. ये घिनौना काम उन्होंने न्यूयॉर्क में किया था और फिर कैलिफोर्निया के होटल में वो जब काम के बारे में बात करने गई थी, तब डोनाल्ड ट्रंप ने उनके शरीर को गलत तरीके से छुआ था. ये मामला भी अभी तक ठंडा पड़ा था. लेकिन फरवरी की शुरुआत में ही जेर्वोस ने अदालत से इस मामले की सुनवाई में तेजी लाने की अपील की थी. हालांकि ट्रंप ने इन आरोपों को राजनीतिक दुष्प्रचार से जुड़ा बताया था और कहा था कि वो जीन करोल को जानते ही नहीं.



[GET MORE HINDI NEWS HERE : https://hindi.livenewsindia.net/ ]

Source hyperlink

Related Articles

BEST DEALS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles