COVID-19: हिमाचल में फिर बढ़ीं बंदिशें, शादी में सिर्फ 50 लोगों को शामिल होने की इजाजत


कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर हिमाचल सरकार का फैसला.

Corona in Himachal: कोरोना (COVID-19) के बढ़ते मामलों को देखते हुए हिमाचल सरकार ने फिर सख्त फैसले लिए हैं. अब शादी और अंतिम संस्कार में ज्यादा लोगों शामिल नहीं हो सकेंगे. 

शिमला. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में कोरोना (COVID-19) के बढ़ते मामलों के बाद एक बार फिर सख्ती शुरू कर दी गई है. प्रशासन ने शादियों (Marriage) और अंतिम संस्कार में ज्यादा लोगों के शामिल होने पर रोक लगा दी है. शादियो में इंडोर केवल 50 लोगों के शामिल होने अब अनुमति दी जाएगी. जबकि बाहर की वेडिंग में 200 लोगों शामिल हो सकते हैं. कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए स्वर्णिम रथ यात्रा भी स्थगित कर दी गई है. आगामी आदेश तक ये नियम लागू करेंगे. सीएम जयराम ठाकुर ने स्वास्थ्य विभाग के साथ हुई बैठक में ये फैसले लिए हैं.

हिमाचल प्रदेश में कोविड-19 मामलों में वृद्धि के दृष्टिगत राज्य सरकार ने हिमाचल दिवस के अवसर पर 15 अप्रैल 2021 को आरम्भ होने वाली स्वर्णिम हिमाचल रथ यात्रा को फिलहाल स्थगित करने का निर्णय लिया है. यह रथ यात्रा प्रदेश के पूर्ण राज्यत्व के स्वर्ण जयंती वर्ष के अवसर पर आयोजित किए जाने समारोहों के उपलक्ष्य में आयोजित की जानी है. यह निर्णय राज्य में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा के लिए मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में लिया गया.

 स्वर्णिम हिमाचल रथ यात्रा स्थगित

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में स्वर्णिम हिमाचल रथ यात्रा के आयोजन पर स्थिति सामान्य होने के बाद निर्णय लिया जाएगा. उन्होंने कहा कि इसी तरह अगले निर्देशों तक विवाह समारोहों में लोगों की संख्या नियंत्रित करने के लिए इनडोर 50 और आउटडोर अधिकतम 200 लोगों को ही शामिल होने की अनुमति देने का निर्णय लिया गया है. इसके अलावा, अंतिम संस्कार में केवल 50 व्यक्तियों को शामिल होने की अनुमति प्रदान की जाएगी.जय राम ठाकुर ने स्वास्थ्य विभाग को सरकारी अस्पतालों में बिस्तरों की क्षमता बढ़ाने के लिए प्रभावी कदम उठाने के निर्देश दिए ताकि कोरोना के मामलों में वृद्धि होने की स्थिति में संक्रमित लोगों को बेहतर उपचार सुविधा प्रदान की जा सके. उन्होंने कोरोना रोगियों के लिए बिस्तरों की वैकल्पिक व्यवस्था करने के लिए राज्य के निजी अस्पतालों से संपर्क करने के लिए भी कहा.

बिस्तरों की बढ़ाई जाएगी क्षमता

मुख्यमंत्री कहा कि इस वायरस को फैलने से रोकने के लिए सरकार पूरी तरह तैयार है और प्रदेश में ऑक्सीजन सिलेंडर, वैक्सीन, पीपीई किट्स, फेस मास्क और हैंड सैनिटाइजर की कोई कमी नहीं है. उन्होंने कहा कि नेर चैक चिकित्सा महाविद्यालय में कोविड रोगियों के लिए अतिरिक्त बिस्तर उपलब्ध करवाए जाएंगे और नाहन चिकित्सा महाविद्यालय में 28 नर्सों के नए बैच को तैनात करने के आदेश जारी कर दिए गए हैं. उन्होंने कहा कि हमीरपुर और नाहन चिकित्सा महाविद्यालयों में भी वैकल्पिक बिस्तरों की क्षमता बढ़ाई जाएगी.

ये भी पढ़ें: सीएम शिवराज के स्वास्थ्य आग्रह में पहुंचे दिग्विजय के भाई लक्ष्मण सिंह, कमलनाथ को लगा झटका 

मुख्यमंत्री ने कहा कि जिलों में कोविड-19 के लिए टीकाकरण और जांच को अभियान मोड पर चलाने के निर्देश दिए गए हैं. साथ ही होम आईसोलेशन में रह रहे कोविड रोगियों से संपर्क रखने के निर्देश भी दिए गए हैं ताकि आवश्यकता पड़ने पर उन्हें अस्पतालों में चिकित्सा उपचार के लिए सलाह दी जा सके.उन्होंने कहा कि सीमा क्षेत्रों पर लोगों की स्क्रीनिंग पर विशेष बल दिया जा रहा है.







[GET MORE HINDI NEWS HERE : https://hindi.livenewsindia.net/ ]

Source hyperlink

Related Articles

BEST DEALS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles