Night Curfew: UP के इन जिलों में रात को आवाजाही बंद, जान लें समय और सभी नियम


लखनऊ: उत्तर प्रदेश में कोरोना ने फिर पांव पसारना शुरू कर दिए हैं. ऐसे में यूपी सरकार ने प्रदेश के ऐसे 13 शहर चिन्हित किए हैं, जहां 500 से ज्यादा केस सामने आ गए हों. इन जिलों के डीएम को अधिकार दिया गया है कि वह जरूरत के अनुसार नाइट कर्फ्यू लागू कर सकते हैं. यानी, अगर जिलाधिकारी चाहें तो रात में सड़कों पर निकलने में पाबंदी लगाई जा सकती है.

ये भी पढ़ें: लखनऊ: KGMU के 40 डॉक्टर्स एक साथ कोरोना पॉजिटिव, लग चुकी थी वैक्सीन की दोनों डोज

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए और इस अधिकार का इस्तेमाल करते हुए प्रशासन ने बड़ा कदम उठाया है. आज से यूपी की राजधानी लखनऊ, कानपुर, प्रयागराज और वाराणसी में नाइट कर्फ्यू घोषित कर दिया गया है. 

ये भी पढ़ें: UP में कोरोना ले रहा विकराल रूप, 24 घंटे में इतने मामले आए सामने

यह होगा नाइट कर्फ्यू का समय
लखनऊ
में 16 अप्रैल तक यह कर्फ्यू लगाया गया है. रात 9.00 बजे से सुबह 6.00 बजे तक लोगों को सड़कों पर निकलने की इजाजत नहीं होगी.

प्रयागराज में नाइट कर्फ्यू 20 अप्रैल तक लगा है. यहां रात के 10.00 बजे से सुबह 8.00 बजे तक आवाजाही पर पाबंदी है.

कानपुर में भी जिला प्रशासन ने सड़कों पर रात की गतिविधियां बंद करने का नियम बनाया है. यह नाइट कर्फ्यू 30 अप्रैल तक होगा और रात 9.00 बजे से सुबह 6.00 बजे तक लगेगा. 

वाराणसी में भी रात के 9.00 बजे से कर्फ्यू के नियम लागू हो जाएंगे. प्रशासन ने अभी सुबह कर्फ्यू खुलने का समय निर्धारित नहीं किया है. लेकिन जैसे ही यह सूचना मिलेगी, हम आप तक पहुंचा देंगे.

ये भी पढ़ें: दिल्ली में लगा Night Curfew, नोएडा-गाजियाबाद वालों को बिना E-Pass नहीं मिलेगी एंट्री, ऐसे बनवाएं

इन लोगों को होगी इजाजत
जिला मजिस्ट्रेट ने लखनऊ में चिकित्सा, नर्सिंग और पैरा मेडिकल संस्थानों जरूरत के समय रात में बाहर आने की छूट दी हुई है. वहीं, गाइडलाइन के अनुसार, लखनऊ में पार्क खोलने का भी समय निर्धारित किया गया है. यहां, सुबह 7 से 10 और फिर शाम 4.00 से रात 8.00 बजे तक ही पार्क खुले रहेंगे. इसके साथ ही, कोविड के प्रोटोकॉल (मास्क लगाना और सोशल डिस्टेंसिंग) का पालन करना भी जरूरी होगा. 

सीएम ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर दिया था निर्देश
दरअसल, कोरोना महामारी प्रदेश के जो 13 जिले ज्यादा प्रभावित हैं, वहां की स्थिति में सुधार लाने के लिए सीएम योगी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जिलाधिकारियों को दिशा-निर्देश जारी किए हैं. साथ ही, उन्होंने हर जिले की स्थिति की समीक्षा भी की. 

ये भी देखें: खेलते-खेलते पाइप में घुस गया नन्हा सा डॉग, फिर जो हरकत की, हंसी नहीं रोक पाएंगे आप

यह हैं वह 13 जिले
वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सीएम योगी आदित्यनाथ ने बताया कि लखनऊ, प्रयागराज, वाराणसी, कानपुर नगर, गोरखपुर, मेरठ, गौतमबुद्ध नगर, झांसी, बरेली, गाजियाबाद, आगरा, सहारनपुर और मुरादाबाद में कोरोना महामारी ने गति पकड़ ली है और वायरस ज्यादा आक्रामक हो गया है. इन जिलों में एक्टिव केस की संख्या ज्यादा है. हालांकि पॉजिटिविटी रेट कम हुआ है. 

ये भी देखें: बंदर को गिफ्ट में मिली Water Bottle, खुशी के मारे की ऐसी हरकत, मजा आ जाएगा

सख्ती बरतनी है जरूरी
सीएम का निर्देश है कि इन जिलों समेत पूरे प्रदेश में ही कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की स्पीड बढ़ाई जाए. लोगों को ट्रेस कर उनका कोरोना टेस्ट कराया जाए और जरूरत पड़ने पर लोगों को तुरंत आइसोलेट कर मेडिकल मदद दी जाए. इसके अलावा, सीएम का निर्देश है कि निगरानी समितियों और इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर को जरूरत में लाया जाए और इनकी उपयोगिता बढ़ाई जाए. पब्लिक एड्रेस सिस्टम का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल किया जाए. साथ ही, मास्क न लगाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करते हुए उनपर जुर्माना लगाया जाए.

WATCH LIVE TV



[GET MORE HINDI NEWS HERE : https://hindi.livenewsindia.net/ ]

Source hyperlink

Related Articles

BEST DEALS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles