RJ विधानसभा उपचुनाव: वसुंधरा राजे और सतीश पूनिया के बीच रविवार सेे होगी देव दर्शन की होड़


वसुंधरा राजे और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया के बीच मच रही है होड़.

राजस्थान बीजेपी (Rajasthan BJP) में देव दर्शन से राजनीतिक दर्शन का सुपरहिट मुकाबला रविवार से शुरु हो रहा है. पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधराराजे रविवार को भरतपुर के गोवर्धन स्थित गिरिराज मंदिर जाएंगी. वहीं प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया बांसवाड़ा में त्रिपुरा सुंदरी में मां के दर्शन कर पूजा अर्चना करेंंगे.

  • Last Updated:
    March 6, 2021, 2:02 PM IST

जयपुर. राजस्थान बीजेपी (Rajasthan BJP) में देव दर्शन से राजनीतिक दर्शन का सुपरहिट मुकाबला रविवार से शुरु हो रहा है. जहां पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधराराजे रविवार को भरतपुर के गोवर्धन स्थित गिरिराज मंदिर में दर्शन औऱ पूजा अर्चना से दो दिवसीय देव दर्शन यात्रा की शुरुआत करेंगी. वहीं, रविवार को ही राजस्थान बीजेपी के अध्यक्ष सतीश पूनिया बांसवाड़ा में त्रिपुरा सुंदरी में मां के दर्शन कर पूजा अर्चना करेंंगे. पूनिया मां से चार विधानसभा उपचुनाव में जीत का आशिर्वाद लेंगे. क्योंकि चार उपचुनाव के नतीजों पर ही पूनिया की सियासी ताकत औऱ भविष्य़ तय होगा.

वसुंधराराजे की त्रिपुरा सुंदरी मे गहरी आस्था है. हर बार चुनाव के नतीजों के वक्त राजे त्रिपुरा सुंदरी मंदिर में मां के चरणों में बैठती हैं. हर राजनीतिक संकट- चुनौती का मुकाबला और नई शुरुआत राजे मां त्रिपुरा सुंदरी के दर्शन से करती आई. इस बार मां का आशिर्वाद लेने सतीश पूनिया पहुंच रहे हैं. पार्टी में राजे का फिलहाल मुकाबला सतीश पूनिया से ही है.

राजे दिखाएंगी राजनीतिक ताकत 

वसुंधराराजे की देव दर्शन यात्रा में न सभा होगी, न रैली. फिर भी भीड़ किसी रैली या सभा से कम नहीं होगी. राजे की राजनीतिक ताकत का खुलकर प्रदर्शन होगा. भरतपुर जिला ही नहीं डिविजन के राजे समर्थक नेता, विधायक, पूर्व सांसद , पूर्व मंत्री शामिल होंगे. वसुंंधरा राजे का जन्मदिन आठ मार्च को है. लेकिन जन्मदिन से एक दिन पहले ही गोवर्धन राजे की राजनीतिक ताकत का अखाड़ा बनेगा.भरतपुर में राजे गुट का दबदबा है. बीजेपी पंचायत से लेकर स्थानीय निकाय में भरतपुर जिले मे पिट चुकी. इस यात्रा के बहाने राजे दिखाने की कोशिश करेगी कि जनता से लेकर पार्टी का चेहरा राजस्थान में वे ही है. 2023 के विधानसभा चुनाव में सीएम के चेहरे क लिए राजे की ये यात्रा पार्टी को दिखाने के लिए ट्रेलर होगा.

इधर, बीजेपी ने राजे की यात्रा को फीका करने की तैयारी की 

लेकिन राजे की सियासी शक्ति प्रदर्शन यात्रा फीकी करने की बीजेपी ने भी तैयारी कर ली. बीजेपी ने 06 मार्च से लेकर 14 मार्च तक गहलोत सरकार के खिलाफ आम जनता की समस्याओं पर हल्ला बोल कार्यक्रम उप खंड स्तर पर तय कर दिया. पार्टी के इस प्रदर्शन में संगठन के पदाधिकारियों से लेकर विधायकों सांसदों को भाग लेना है.

राजे समर्थकों के सामने मुश्किल होगी कि वे पार्टी के आदेश का पालन करेंगे या राजे की देव दर्शन यात्रा में जाएंगे. राजे के नजदीकी बीजेपी विधायक प्रताप सिंह सिंघवी ने कहा कि ये राजे की निजी यात्रा है, पार्टी के जो नेता, कार्यकर्ता शामिल होना चाहते हैं हो सकते है. लेकिन कांग्रेस ने तंज कसा. परिवहन मंत्री प्रताप खाचरियवास ने कहा कि राजे पूनिया की यात्रा से बीजेपी की कलह खुलकर सामने आ गई.

वसुंधरा राजे की देव दर्शन यात्रा का कार्यक्रम
07 मई को सुबह 9.30 बजे जयपुर से भरतपुर के पूंछरी लौठा पहुंचेगी. हेलिकॉप्टर से 10.30 बजे पूंछरी लाौठा में मंदिर दर्शन करेंगी. पूछरी लौठा से 11 बजे गोेवर्धन स्थित गिरिराज मंदिर जाएंगी. 11.40 दानघाटी मंदिर में पूजा करेगी. शाम छह बजे आदि बद्री पहुंचेगी. रात्री विश्राम आदि बद्री में करेगी.
आदि बद्री में रात को हजारों की भीड़ जुटेगी धार्मिक कार्यक्रम में सुबह पांचे बजे बद्रीनाथ मंदिर के दर्शन कर आरती में शामिल होंगी. इसके बाद जन्मदिन की शुभकामनाएं स्वीकार करेंगी. 12.30 बजे केदारनाथ मंदिर जाएगी. पूजा औऱ लंच के बाद केदारनाथ से फिर धौलपुर जाएगी​.






[GET MORE HINDI NEWS HERE : https://hindi.livenewsindia.net/ ]

Source hyperlink

Related Articles

BEST DEALS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles