UP Panchayat Chunav 2021: इसे सस्ती चाय नहीं पिला सकते हैं प्रत्याशी, तय हुआ सामानों का रेट


लखनऊ:  उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव का बिगुल बज चुका है. ऐसे में प्रत्याशी भी पूरी तरीके से प्रचार में जुट गए हैं. वे प्रचार के दौरान जबरदस्त खर्चा भी कर रहे हैं. लेकिन अब चुनाव आयोग इसको लेकर सख्त हो गया है. चुनाव खर्च की सीमा पहले ही तय कर दी गई थी. अब आयोग ने रेट लिस्ट जारी की है. मतलब अब प्रत्याशी किसी को अपनी तरफ से चाय पिलाता है, तो उसका एक फिक्स रेट है. उसे इसका हिसाब आयोग को देना होगा. आइए जानते हैं एक कप चाय कीमत कितनी तय की गई है?

Video: धेला भी नहीं होगा खर्च, बेटवा ऐसे बन जाएगा कलेक्टर

गिनकर समोसा खाएंगे समर्थक 
प्रत्याशी को ना सिर्फ चायपत्ती-चीनी का भी हिसाब देना होगा. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एक गिलास चाय की कीमत 5 रुपये तय की गई है. वहीं, समोसा और अन्य खाने के सामान की रेट लिस्ट जारी कर दी गई है. अगर प्रत्याशी थाली खिलाते हैं, तो पर प्लेट की कीमत 35 रुपए होगी. एक प्लेट में छह पूड़ी, एक सूखी सब्जी, हरी मिर्च, अचार, नींबू साथ में एक बूंदी का लड्डू भी शामिल होगा. 

इन सबके अलावा कोरोना के चलते कुछ और सामानों को रेट लिस्ट में जगह दी गई है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक,  मास्क तीन लेयर दो रुपये प्रति पीस, सैनिटाइजर 100 एमएल 18 रुपये, सैनिटाइजर 500 एमएल 67 रुपये के हिसाब से रेट तय किया गया है. इसके अलावा टेंट से लेकर गाड़ी तक की भी पूरी रेट लिस्ट जारी कर दी गई है. 

UP Panchayat Chunav 2021: सांसद से ज्यादा ग्राम प्रधान के विकास निधि में होता है पैसा, जानिए कैसे

कितनी है खर्च करने की सीमा
चुनाव की तारीखों की घोषणा से पहले खर्च की सीम तय कर दी गई थी. ग्राम प्रधानी के प्रत्याशी  75 हजार रुपए खर्च कर सकेंगे. वहीं, ब्लॉक प्रमुख दो लाख और जिला पंचायत सदस्य डेढ़ लाख खर्च कर सकेंगे. 

WATCH LIVE TV



[GET MORE HINDI NEWS HERE : https://hindi.livenewsindia.net/ ]

Source hyperlink

Related Articles

BEST DEALS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles